कटड़ा-रियासी स्टेशन यार्ड के बीच मेगा पुल संख्या-39 के सुपर स्ट्रेक्चर का निर्माण गर्डरों को लगाने का काम शुरू

जम्मू एवं कश्मीर को एक वैकल्पिक और विश्वनीय रेल प्रणाली उपलब्ध कराने के मद्देनज़र भारत सरकार ने जम्मू से बारामूला को भारतीय रेल नेटवर्क के साथ जोडने के लिए कश्मीर घाटी में 326 किलोमीटर लम्बी रेल लाईन बिछाने की योजना बनाई (यूएसबीआरएल प्रोजेक्ट) । कुल 326 किलोमीटर लम्बे इस रेल मार्ग में से 215 किलोमीटर रेल मार्ग का कार्य पूरा हो गया है और इस रेल मार्ग पर रेलगाड़ियां चल रही हैं । शेष बचे कटड़ा-बनिहाल रेल सेक्शन (111 किलोमीटर) के बीच रेल लाइन बिछाने का कार्य प्रगति पर है । हिमालय भू-भाग के लिए इस दुर्गम पहाड़ी क्षेत्र में बड़ी संख्या में पुलों और सुरंगों का निर्माण कार्य बेहद कठिन है तथा यह अत्यधिक चुनौतीपूर्ण भी है ।


उत्तर एवं उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक, राजीव चौधरी ने बताया कि कटड़ा-रियासी के बीच पुल संख्या-39 स्थित है । इस पुल पर रियासी यार्ड स्टेशन का निर्माण, ऊँचे, आयाताकार, पतले, खोखले खम्बों लगभग 490 मीटर स्पैन वाला एक इंजीनियरिंग चमत्कार है । रियासी स्टेशन यार्ड इसी पुल पर स्थित होगा । इसमें लगभग 7 हज़ार मेट्रिक टन ठोस इस्पात और 6700 मेट्रिक टन संरचनात्मक इस्पात का उपयोग किया गया है । कटड़ा- रियासी के बीच पुल संख्या-39 के सुपर स्ट्रैक्चर के निर्माण के लिए गर्डर लगाने का कार्य शुरू हो गया है । रियासी स्टेशन यार्ड(मेन लाईन+लूप लाइन और दोनो ओर के प्लेटफॉर्म) बनाने का काम शुरू हो गया है ।
इस पुल की लम्बाई 490 मीटर और ऊँचाई 105 मीटर है । इस पुल में 8 स्पैन हैं । 2 लाइनों और प्लेटफॉर्मों वाला रियासी रेलवे स्टेशन यार्ड इस पुल पर स्थित होगा।


अब तक 64 मीटर की लाँचिंग पूरी हो चुकी है । अत्याधुनिक पुल-पुश तकनीक का उपयोग करते हुए इंक्रिमेंटल लाँचिंग की जा रही है । इस पुल को जुन, 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य है ।

Recommended For You

About the Author: RailPost News Desk

Tell us what you think about this post!

%d bloggers like this: